अंतिम स्नान पर्व माघी पूर्णिमा पर संगम तट पर जुटने लगे श्रद्धालु लगभग 25 लाख स्नानार्थियो को डुबकी लगाने का अनुमान


 प्रयागराज,(स्वतंत्र प्रयाग) माघ मेला 2020 का अंतिम तथा पाचवा स्नान पर्व माघी पूर्णिमा रविवार को है अंतिम स्नान पर्व में लगभग 25 लाख लोगों के संगम में डुबकी लगाने का अनुमान लगाया जा रहा है।इस स्नान पर्व को लेकर जहा प्रशासन की तैयारियां तेज हो गई है तथा वही दूसरी ओर मेला क्षेत्र में स्नानार्थियो की भीड़ जुटने शुरू हो गई है।
 


इस मेले के बाद कुछ संस्थाओं साधुओं को छोड़कर मेले का समापन भी हो जाएगा संगम में स्नान करने का सीलसिला  शुरू हो गया है।मेला क्षेत्र में श्रद्धालुओं का आना  शुरू हो गया है प्रयागराज जनपद के आस पास के लोग तथा पड़ोसी जनपदों और पड़ोसी राज्यो से भी मेला क्षेत्र में लोगो का भारी तादात में प्रवेश शुरू हो गया है। 


मेले में भीड़ बढ़ने की स्थिति में मेला प्रशासन तथा पुलिस ने जगह जगह वेरिकेटिंग लगा कर मार्ग में बदलाव किया है कार, जीप तथा अन्य चार पहिया वाहनों को अधिकृत पास होने पर ही मेला क्षेत्र में प्रवेश करने दिया जा रहा है।


 परेड तथा त्रिवेणी  बांध के पास शुरू में ही पुलिस बल अधिक सक्रिय है मेला प्रशासन के अधिकारियो ने संगम से किला तक तथा गंगा के अन्य घाटो पर भ्रमण कर स्नान घाटो की तैयारियो का जायजा लिया। संगम नोज पर कुछ नए कांसे बिछाए गए है घाटो पर फिशलन से बचने के लिए रेत की बोरियो को भी दुरुस्त किया गया है।


माघ मेले में कल्पवास कर रहे लोगो ने माघी पूर्णिमा के स्नान दान के बाद तुरंत घर चले जाने की तैयारी भी शुरू कर दिया है। लगभग साधु संतों तथा कल्पवासीओ ने अपना सामान समेटना प्रारम्भ कर दिए है ।