उद्धव के बाद अब राज ठाकरे के बेटे की भी राजनीति में एंट्री, आदित्य के लिए खड़ी करेंगे चुनौती 


मुंबई (स्वतंत्र प्रयाग): महाराष्ट्र की राजनीति में दमदार दखल रखने वाले ठाकरे परिवार के एक और सदस्य ने राजनीति में एंट्री कर ली है। प्रदेश की सियासत में अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) प्रमुख राज ठाकरे ने अपने बेटे अमित ठाकरे को आधिकारिक रूप से राजनीति में लांच कर दिया है।


अमित ठाकरे को सक्रिय राजनीति में लेकर आने के फैसले को सीधे तौर पर आदित्य ठाकरे को चुनौती देने से जोड़कर देखा जा रहा है। ठाकरे परिवार की तीसरी पीढ़ी के सदस्य अमित ठाकरे को भले ही आधिकारिक रूप से अमित को आज पार्टी में शामिल किया गया हो, लेकिन वह पहले भी पार्टी की कई अहम बैठकों में देखे जा चुके हैं।


यही नहीं वह एमएनएस की कई रैलियों और आंदोलन में भी शाामिल रह चुके हैं। जिस दिन अमित ठाकरे के चाचा, उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले रहे थे, अमित नवी मुंबई में मजदूर आंदोलन में शामिल हुए थे। साल 2019 में अमित ठाकरे की शादी हुई थी। 


पार्टी में शामिल होते ही अमित ठाकरे के पास कई चुनौतियां भी सामने हैं। सबसे पहले उन्हें पिता की पार्टी की डूबी हुई नैया को पार लगाना है। 2013 चुनाव में 13 सीटें जीतने वाली पार्टी इस बार चुनाव में सिर्फ एक जीत ही जीत पाई थी। ऐसे में पार्टी के अंदर जमीनी स्तर पर काम करने की जरूरत है।


साथ ही कार्यकर्ताओं के बीच भी सामंजस्य बिठाना होगा। इसी के साथ अमित ठाकरे की आदित्य से भी तुलना होगी जो महाराष्ट्र कैबिनेट में मंत्री भी हैं। अमित को इस तुलना के लिए भी तैयार रहना होगा।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर