शोसल सेक्टर की सभी योजनाओं का लाभ पात्र लोगो को ही दिया जाय उत्तर प्रदेश विकाश की तरफ निरंतर अग्रसर: केशव प्रसाद मौर्य


लखनऊ,(स्वतंत्र प्रयाग)उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य  शुक्रवार को जनपद फतेहपुर के  श्रीमती सुंदरमती बालिका इंटर कॉलेज राधा नगर में आयोजित एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जनपद फतेहपुर की  129. 14 करोड़ की 69 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया । 
जिनकी लम्बाई  134. 55 किलोमीटर है।


उन्होंने शिलान्यास की गई परियोजनाओं को शीघ्र ही पूरा करने के निर्देश दिए उन्होंने कहा इन परियोजनाओं से जनपद के विकास में उत्तरोत्तर प्रगति होगी और लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी।इससे किसानों को विपणन सेवाओं का  उचित लाभ मिल सकेगा।


इस अवसर पर  आयोजित  जनसभा को संबोधित  करते हुए  उन्होंने कहा जनपद के जिन छात्र छात्राओ ने बोर्ड परीक्षा में टॉप किया है ,उनके ग्राम में सम्पर्क मार्ग बनवाकर उनका नाम शिलापट्ट पर लिखवाया जायेगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा  कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीणशहरी के तहत आवास, सौभाग्य योजना में विद्युत कनेक्शन एवं उज्जवला योजना में गैस कनेक्शन हमारी सरकार द्वारा लाभ पात्र व्यक्तियों को निःशुल्क सुलभ कराया जा रहा है।



  उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में किसानों को वर्ष में 2000 की दर से 03 किस्तो में 6000 देने का काम किया गया है । उन्होने कहा कि नागरिकता संसोधन अधिनियम 2019 बन गया है ।  किसी की नागरिकता छीनने का अधिकार इस कानून में नही है।
 अल्पसंख्यको विशेषकर मुस्लिमो का सीएए से कोई अहित नही होगा।


  माननीय  उपमुख्यमंत्री जी, व केन्द्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति,ने  जगतगुरू शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानन्द सरस्वती जी महाराज जी के सानिध्य में छात्र/छात्राओं को स्वेटर व किसानों को साल देकर सम्मानित किया गया।


माननीय उप मुख्यमंत्री जी ने गाजीपुर से विजयीपुर मार्ग का चौड़ीकरण लागत  34 07.56 लाख, फतेहपुर में 04 सूट अतिरिक्त निरीक्षण भवन निर्माण   144.65 लाख, सातोनरैनी मार्ग की लागत 19.58 लाख, कालिका का डेरा सम्पर्क मार्ग लागत  45.60 लाख , सखेरपुर सम्पर्क मार्ग  12.93 लाख, कुतुआपुर सम्पर्क मार्ग लागत 23.18 लाख, बिलन्दा मार्ग मोहनपुर सम्पर्क मार्ग का शेष भाग लागत  22.10 लाख, प्रयागदासपुर सम्पर्क मार्ग लागत  22.11 लाख, संगतकुटी सम्पर्क मार्ग लागत 17.36 लाख, कि सोई से रामनगर सम्पर्क मार्ग  54.20 लाख, बेगांव अनन्दाबाग सम्पर्क मार्ग  37.59 लाख, देवरा से मुन्सी का पुरवा सम्पर्क मार्ग लागत 58.67 लाख, जमरावा से बलबीरपुर सम्पर्क मार्ग  55.79 लाख, हथगांव अलीमऊ मार्ग 51.23 लाख, हथगांव अलीमऊ मार्ग से रतीरामपुर सम्पर्क मार्ग 76.38 लाख, ससुर खदेरी नदी पर सात किमी निर्मित आरसीसी लघु सेतु पहुॅच मार्ग 97.39 लाख, ससुरखदेरी नदी पर जगजीवनपुर सिमौरी आरसीसी लघु पहॅच मार्ग 394.38 लाख, खागा किशनपुर मार्ग के खागा विजयीपुर भाग ब्लांक मुख्यालय तक का चौडीकरण का कार्य 825.55 लाख, हरदासपुर से ख्वाजगीपुर नव निर्माण सम्पर्क मार्ग  79.42 लाख, डोलीपुर सम्पर्क मार्ग 26.38 लाख, टेसाही खुर्द से गुखुरूवापुर सम्पर्क मार्ग लगात  116.00 लाख, किशनपुर 
गढवा कोट मार्ग से खरखर सम्पर्क मार्ग लागत   38.08 लाख, थुरियानी भसरौल मार्ग से चतरन का डेरा मार्ग लागत  60.42 लाख, इटौरा थुरियानी और भरसौल मार्ग से शिवप्रसाद का डेरा सम्पर्क मार्ग लागत  2.62 लाख, थरियांव असोथर मार्ग लिप्ट कैनाल निर्माण लागत  73.30 लाख, झड़ीरामपुर मार्ग लागत 60.35 लाख।


नदलौली से रसूलपुर सम्पर्क मार्ग 52.34 लाख, बिन्दकी गुनीर से खटिहनपुर सम्पर्क मार्ग लागत 48.42 लाख , रामनगर सम्पर्क मार्ग लागत 24.03 लाख, लाला का पुरवा सम्पर्क मार्ग लागत रू0 40.15 लाख, शिवराजपुर बिन्दकी ललौली मार्ग लगात  266.08 लाख, शाह बनरसी दुगरेयी, हसनापुर मार्ग लागत रू0 33.09 लाख, ओनईडेरा मजरा कोर्रा कनक सम्पर्क मार्ग लागत  91.67 लाख, अयाह शाह से भगवानपुर सम्पर्क मार्ग लागत  102.63 लाख, चमरनपुर मजरा सेमरई सम्पर्क मार्ग लागत  87.25 लाख।


बरूहा से भोलापुर सम्पर्क मार्गलागत  35.58 लाख, जहानाबाद अमौली चॉदपुर जोनिहा मार्ग लागत  618.43 लाख, चॉदपुर लहुरीमऊ मार्ग लागत 25.86 लाख, मथुरापुर से किशनपुर सम्पर्क मार्ग लागत  23.38 लाख, खजुहा नरैचा जोडाखेडा से मैथू पुरवा सम्पर्क मार्ग लागत  56.78 लाख, पहाडपुर बरिगवां से रज्जी का डेरा मार्ग लागत  30.42 लाख, देवमयी रूसी से द्वन्दपुर सम्पर्क मार्ग लागत  63.13 लाख।


टकौली सेफैजाबाद सम्पर्क मार्ग लागत  43.39 लाख, फरहतपुर सम्पर्क मार्ग लागत  77.77 लाख, बिजुरी से जवाहरपुर सम्पर्क मार्ग लागत  43.12 लाख, खजुहा से जलालपुर गोभा होते हुए रायपुर पुल तक पहुॅच मार्ग लागत  119.85 लाख, जहानाबाद से बसंतखेड़ा लघु सेतु पहुॅच मार्ग लागत  87.72 लाख  कुल-48 कार्यो की कुल लम्बाई-94.57 किमी  की लागत  79.02 करोड़ शिलान्यास किया गया। 


   माननीय उपमुख्यमंत्री जी ने पासिन का पुरवा मार्ग लागत  12.36, थरियांव हथगांव चकमुस्तफापुर ग्रामीण मार्ग लागत  4.68 लाख, चन्दापुर से टिकुरा सर्म्क मार्ग ग्रामीण लागत  49.63 लाख, जगदीशपुर सम्पर्क मार्ग ग्रामीण लागत 33.83 लाख, सिहरी पटटी मार्ग से विरसिंहपुर ग्रामीण मार्ग लागत 15.14 लाख टाडा मार्ग से बरौलपुर सम्पर्क मार्ग लागत  88.82 लाख, खड़कपुर से पहाड़पुर तक सम्पर्क मार्ग लागत 92.37 लाख, अम्बापुर हथगांव से चकजैनुद्दीनपुर सम्पर्क मार्ग लागत   16.83 लाख,  


अम्बापुर हथगांव मार्ग से इमादपुर मार्ग लागत  19.41 लाख, जमालपुर से चकहसनपुर सम्पर्क मार्ग लागत  18.65 लाख, खागा नौबस्ता मार्ग लागत   2366.00 लाख, सुल्तानपुर घोष सिमौली मार्ग चकनुरूद्दीनपुर ग्रामीण सम्पर्क मार्ग लागत  16.27 लाख, खागा नौबस्ता मार्ग से चकमुसेपुर ग्रामीण मार्ग लागत।


48.47 लाख, फतेहपुर टेकारी मार्ग से खेमकरनपुर ग्रामीण मार्ग लागत 43.33 लाख, सुल्तानपुर घोष सिमौली दुर्गानीपुर मार्ग लगात  33.34 लाख, फतेहपुर भिटौरा चंदीपुर ग्रामीण मार्ग लागत 129.93 लाख, जीटी रोड सुल्तानपुर सम्पर्क मार्ग से खलीलपुर ग्रामीण मार्ग लागत 38.63 लाख, हैदरपुर इटौली मार्ग से नबीपुर ग्रामीण मार्ग लागत 09.32 लाख, खजुहा पहुर मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य लगात  1320.31 लाख,।


जहानाबाद साढ़ रमईपुर मार्ग लागत  408.57 लाख एवं अमौली जोनिहा मार्ग से सठिगंवा चॉदपुर लहुरीमऊ से गौरी सम्पर्क मार्ग के मध्य नोन नदी पर पुल निर्माण कार्य लागत  246.46 लाख आदि 20 मार्ग, 01 सेतु लम्बाई-39.98 किमी0 लागत रू0 50.12 करोड़ का लोकार्पण किया गया। 
 मा0 सांसद/राज्यमंत्री ग्रामीण विकास भारत सरकार ने कहा कि आश्रम व विद्यालय में अवैध कब्जे न किये जांय ,क्योकि यह स्थान सार्वजनिक लोगो के लिये होते है। जनपदवासियों को मा0उप मुख्यमंत्री जी द्वारा अनेक सौगाते दी जा रही है, जिससे जनपद का चहुंमुखी विकास  होगा ।


 सरकार द्वारा गरीब व्यक्तियों के लिये अनेक योजनाएं चलाई जा रही है ,जिनसे जिला प्रशासन द्वारा दूर दराज के अन्तिम छोर  के पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित किया जा रहा है।     इस अवसर पर राज्यमंत्री खाद ,रसद एवं नागरिक आपूर्ति श्री रणवेन्द्र प्रताप सिह उर्फ धुन्नी  सिंह ,राज्य मन्त्री श्री जय कुमार सिह जैकी तथा अन्य जनप्रतिनिधि प्रमुख रूप से  मौजूद रहे।