सीआरपीएफ के जवान छत्तीसगढ़ के जंगल में यमदूत बनें, गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया


बीजापुर(स्वतंत्र प्रयाग)छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ जवानों नें इंसानियत की मिसाल पेश की है। जवानो ने जंगल में 6 किलोमीटर का रास्ता तय करके अपने कंधे पर चारपाई के सहारे एक गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया। इस बहादुरी की वजह से लोग उनकी तारीफ और सलाम कर रहे हैैं।


बता दें कि यह मामला मंगलवार का है। जानकारी के मुताबिक, जवानों की एक टुकड़ी बीजापुर के जंगलों में पेट्रोलिंग कर रही थी। इसी दौरान उनको बीच रास्ते में एक गर्भवती महिला मिली। बीमार थी और प्रसव पीड़ा से कराह रही थी। उन्होंने पहले तो देखा कि आस-पास कोई वाहन मिल जाए तो पीड़िता को अस्पताल तक पहुंचाया जाए। लेकिन काफी इंतजार करने के बाद जवानों ने चारपाई के सहारे महिला को ले जाने का फैसला लिया।


जानकारी के मुताबिक, सीआरपीएफ जवानों ने करीब  6 किलोमीटर का सफर तय कर महिला को एंबुलेंस तक पहुंचाया। जहां प्रसूता ने अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया। जानकारी के अनुसार, मां और बच्चे की हालत ठी


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें