प्रयागराज सोरांव में एक ही परिवार के पांच लोगों की हुई निर्मम हत्या , प्रशासनिक अमले में मचा हड़कंप

 




लखनऊ (स्वतंत्र प्रयाग) प्रयागराज जिले के सोरांव थाना क्षेत्र के सेवइत गांव में शनिवार को देर रात एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या कर दी गई। हत्यारों ने मासूम बच्चों को भी मौत की नींद सुला दी। हत्याकांड की सूचना मिलने के बाद प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया।आनन फानन में आईजी समेत एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज मौके पर पहुंचे। 



इसके साथ ही घटना स्थल पर डॉग स्क्वॉड और फरेंसिक टीम भी नमूनों की जांच के लिए पहुंची। पुलिस इस मामले को आपसी रंजिश से जोड़कर भी देख रही है।एसपीआरए गंगापार नरेंद्र कुमार सिंह से फोन से बात की। तो उन्होंने कहा, 'घर के सभी दरवाजे बंद थे। माना जा रहा है कि हत्यारे घर के अन्दर छत से दाखिल हुए थे।


घटना स्थल पर  विजय शंकर तिवारी (55), उनके बेटे सोनू (30), सोनू की पत्नी सोनी (27), सोनू के दो बच्चे कुंज और कान्हा के शव मिले हैं। कान्हा सात वर्ष था जबकि कुंज महज तीन वर्ष का ही था।'


 


एसपी ने बताया कि पूरे घर को सील कर दिया गया है। किसी को भी घर के अंदर जाने की अनुमति नहीं है। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्या की वजह क्या है? इसकी जांच की जा रही है।


वहीं पर स्थानीय लोगों का कहना है कि विजय शंकर तिवारी गुजरात की एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते थे। वह इन दिनों गांव आए हुए थे। उनका बेटा सोनू गांव में ही रहता था। रात में खाना खाने के बाद सभी सो गए। सुबह काफी देर तक जब परिवार का कोई सदस्य घर के बाहर नहीं निकला तो पड़ोसियों को शक हुआ। पड़ोसी जब घर के अंदर पहुंचे तो वहां सभी 5 लोगों के शव खून से लथपथ पड़े हुए थे।


इस बात की आनन-फानन जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस टीम सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची।पुलिस मामले के हर पहलू की जांच में जुटी है, आपसी रंजिश को माना जा रहा है वारदात की प्रमुख वजह फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।