मौनी अमावस्या पर्व की सभी तैयारियाँ नही हुई पूरी तो होगी कार्यवाही मेला अधिकारी



प्रयागराज,(स्वतंत्र प्रयाग) माघ मेला के सबसे बड़े और तीसरे प्रमुख स्नान पर्व मौनी अमावस्या पर प्रशासन की नजर तेज है। 24 जनवरी को होने वाले इस स्नान पर्व की तैयारियाँ काफी तेज हो गयी है मेले में जो कार्य अभी अधुरे थे उसे अब युद्ध स्तर पर पूरा कराने के निर्देश दिए गए है।


विभाग के सभी उच्च अधिकारियों को इसके लिए कड़ी चेतावनी दी गयी है कि दो दिन के अंदर मौनी अमावस्या स्नान पर्व की तैयारियाँ पुरी नही की गई तो करवाई भी की जाएगी।माघ मेला के तीसरे स्नान पर्व मौनी अमावस्या 24 जनवरी को मेला प्रशासन ने इस स्नान पर्व पर लगभग 2 करोड़ से ज्यादा श्रद्धालुओं के संगम क्षेत्र में आने का अनुमान लगाया है।


अनुमान को देखते हुए तैयारियाँ भी कराई जा रही है श्रद्धालुओं को मिलने वाली सुविधाओं के इंतजाम पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है । भीड़ को देखते हुए स्नान घाटों को बढ़ाने का कार्य तेज कर दिया गया है सेक्टर 3,4,और 5 में 5 अतिरिक्त स्नान घाट बनाये जा रहे है स्नान घाटों को बनाने के लिए 50 से ज्यादा ट्रेक्टर और जे सी बी मशीने लगाई गई है तथा 400 से अधिक श्रमिक भी इस कार्य मे लगाए गए है।
 
  
प्रमुख स्थानों पर अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जा रहे


संगम के सरकुलेटिंग एरिया के स्नान घाटों को दुरुस्त कराया जा रहा है पांटून पुलों से लेकर चकर्ड प्लेट की सड़कों को दुरुस्त रखने को कहा गया है विद्युत व्यवस्था भी बेहतर रखने के निर्देश दिए गए हैैं जल निगम और स्वास्थ्य विभाग को जलापूर्ति तथा शौचालयों की व्यवस्था बेहतर करने के लिए कहा गया है। इसके अलावा अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जा रहे हैैं। संगम के सरकुलेटिंग एरिया, पांटून पुलों के साथ ही प्रमुख चौराहों और माघ मेला के इंट्री प्वाइंटों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए गए हैैं। सुरक्षा को लेकर एक हजार अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया जा रहा है।


अब तक पुलिस, पीएसी, अद्र्धसैनिक बल, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, होमगार्ड, पीआरडी के लगभग पांच हजार जवान तैनात किए गए हैैं। इसके साथ ही मेले में साफ-सफाई पर विशेष जोर दिया जा रहा है।
 
मेला अधिकारी रजनीश कुमार मिश्र का कहना है कि मौनी अमावस्या स्नान पर्व की तैयारियाँ दो दीन में पूरी कर ली जायेगी अनुमान के हिसाब से  मेले में श्रद्धालुओं के आने के  सभी वेवस्थाये की जा रही है।