लापता महिला का डेढ़ साल बाद घर में ही दफन मिला कंकाल, आरोपी पति को पुलिस ने किया गिरफ्तार


उरई (स्वतंत्र प्रयाग): जालौन उत्तर प्रदेश में उरई-जालौन जिला मुख्यालय के अजनारी रोड स्थित रामनगर मुहल्ले के एक घर में पिछले डेढ़ साल से दफन एक महिला का कंकाल पुलिस ने शनिवार को बरामद किया और उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। इस सिलसिले में पुलिस ने महिला के पति को गिरफ्तार कर लिया है।


उरई-जालौन के सिटी मजिस्ट्रेट हरिशंकर शुक्ला ने रविवार को बताया, दहेज प्रताड़ना की शिकार महिला विनीता अहिरवार (28) पिछले 15 मई, 2018 से कथित रूप से गायब थी और उसके मायके वालों के पूछने पर महिला का पति उसके दिल्ली में होने का बहाना बना लेता रहा है।शुक्ला ने बताया, महिला के माता-पिता ने दो सप्ताह पूर्व जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से शिकायत कर हत्या की आशंका जताई थी।


जिसपर पुलिस ने उसके पति प्रमोद अहिरवार को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने महिला की हत्या कर शव घर में ही दफनाने का अपराध कबूल किया। सिटी मजिस्ट्रेट शुक्ला ने बताया, जिलाधिकारी के आदेश पर मेरी मौजूदगी में प्रमोद की निशानदेही पर शनिवार को जब पुलिस और फोरेंसिक दल ने घर के कमरे की खुदाई शुरू करवाई तो डेढ़ साल से गायब महिला का कंकाल बरामद हुआ, जिसे पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।


उन्होंने बताया कि मृत महिला विनीता की तीन बच्चियां हैं और उसका पति शादी के बाद से ही दहेज की मांग को लेकर उसे प्रताड़ित करता रहा। कई बार मामला परिवार परामर्श केंद्र भी पहुंचा था, लेकिन प्रमोद उत्पीड़न न करने का वादा कर पत्नी को अपने साथ ले आता रहा। महिला और उसके माता-पिता के बीच अंतिम बार 25 मार्च, 2018 को फोन पर बात हुई थी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामले की प्राथमिकी दर्ज की है, और शव का कंकाल बरामद होने के बाद महिला के पति प्रमोद को गिरफ्तार कर लिया है। आगे की जांच जारी है।