देश की दूसरी निजी ट्रेन अहमदाबाद से मुंबई के बीच हुई संचालित तेजस एक्सप्रेस


अहमदाबाद (स्वतंत्र प्रयाग): रेलवे के निजीकरण को लेकर रेल कर्मचारी संघ के विरोध के बीच गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने आज अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलने वाली देश की दूसरी निजी क्षेत्र संचालित तेजस एक्सप्रेस ट्रेन को यहां हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।


आईआरसीटीसी इसका नियमित संचालन 19 जनवरी से करेगा तथा यह नडियाद, वडोदरा, भरूच, सूरत, वापी और बोरीवली स्टेशनों पर भी रूकेगी।


मजेदार बात यह भी रही कि रेल मंत्री पीयूष गोयल, जो आज अहमदाबाद में थे तथा जिन्हें भी इस कार्यक्रम में शिरकत करनी थी वह ऐसा न कर नर्मदा जिले में स्टेच्यू ऑफ यूनिटी स्थित केवड़िया चले गये। इस बारे में कोई आधिकारिक स्पष्टीकरण समाचार लिखे जाने तक नहीं मिल सका था।


उधर पश्चिम रेलवे कर्मचारी संघ ने अहमदाबाद, वडोदरा और सूरत में तेजस एक्सप्रेस और रेलवे के निजीकरण का विरोध किया। इस मौके पर पुलिस ने 40 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी ले लिया। वडोदरा में रेलवे यूनियन के नेता शरीफ पठान ने कहा कि ऐसे ट्रेन के संचालन से रेलवे के निजीकरण को बढ़ावा मिलेगा।


बता दें कि अहमदाबाद मुंबई तेजस एक्सप्रेस गुरूवार को छोड़ कर सप्ताह के अन्य सभी छह दिन चलेगी। इसमें कुल 10 कोच हैं जिनमें से 8 एसी चेयरकार और दाे एक्जिक्यूटिव कोच है जिसमें सभी 56 सीटों पर एलईडी स्क्रीन लगी है। इसमेें कई अन्य सुविधाएं भी हैं। इसमें कुल 736 यात्री यात्रा कर सकते हैं।


इसमें यात्रियों की मदद तथा ऑनबोर्ड शापिंग के लिए एयर होस्टेस की तर्ज पर होस्टेस भी होंगी। यह अहमदाबाद से सुबह छह बज कर 40 मिनट पर चल कर दोपहर 1 बज कर 55 मिनट पर मुंबई सेंट्रल पहुंचेगी।


वहां से दोपहर बाद तीन बज कर 40 मिनट पर चल कर रात को नौ बज कर 55 मिनट पर अहमदाबाद पहुंचेगी यानी कुल दूरी लगभग छह घंटे में पूरा करेगी। इसकी औसत गति 160 किमी प्रति घंटा होगी। ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के मौके पर रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वी के यादव भी उपस्थित थे।