छेड़छाड़ के मुख्य गवाह रेप पीड़िता की मां को आरोपियों ने पीट-पीटकर मार डाला


कानपुर (स्वतंत्र प्रयाग) : यूपी के कानपुर से एक दिल दहला देने वाली घटना उस समय सामने आई जब वहीं के एक नाबालिग से छेड़छाड़ के आरोपियों ने पीड़िता की मां को भी पीट-पीटकर मार डाला। इस पूरे घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर  फिलहाल वायरल हो रहा है।


वीडियो में एक महिला जमीन पर गिरी नजर आ रही है। कुछ लोग उसे बुरी तरह से पीट रहे हैं। आरोपी महिला के चेहरे पर पैरों से मार रहे हैं।घटना में पांच आरोपियों के शामिल होने की बात सामने आई है। पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। फरार आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही है। मृतका की उम्र 40 वर्ष थी।


पीड़ित परिवार ने पुलिस से इंसाफ की गुहार लगाई है।नाबालिग से छेड़छाड़ की वारदात साल 2018 की है। पुलिस ने इस केस में FIR दर्ज करने के बाद 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। आरोपियों के नाम आबिद, मिंटू, महबूब, चांद बाबू, जमील और फिरोज हैं। हाल ही में आरोपियों को जमानत मिल गई थी।


पुलिस ने बताया कि जमानत पर रिहा होने के बाद बीते गुरुवार आरोपी पीड़िता के घर में घुसे और धमकाते हुए केस वापस लेने को कहा। छेड़छाड़ मामले में पीड़िता की मां मुख्य गवाह थी। पीड़ित परिवार ने इससे इंकार किया तो आरोपियों ने उन्हें बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। 


गंभीर रूप से घायल पीड़िता की मां और एक अन्य महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान पीड़िता की मां की मौत हो गई। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में एक महिला जमीन पर गिरी नजर आ रही है।


कुछ लोग उसे बुरी तरह पीट रहे हैं। आरोपी महिला के चेहरे पर लात मार रहे हैं। पुलिस का कहना है कि उन्होंने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी को मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया. अन्य आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही है।


इस केस में पुलिस की लापरवाही की बात भी सामने आ रही है। कानपुर के एसएसपी अनंत देव तिवारी ने कहा, 'प्रथम दृष्टया मैं ये नहीं कहूंगा कि पुलिस थाने के अधिकारियों की ओर से लापरवाही हुई है लेकिन अगर इस मामले में शिकायत की जाती है तो हम इसकी भी जांच करेंगे।'