भारत ने K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण,मारक क्षमता 3500 KM



नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): भारत ने 3,500 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का आंध्र प्रदेश के तट के पास एक पनडुब्बी से लॉन्च कर सफल परीक्षण किया है। DRDO द्वारा विकसित की जा रही इस बैलेस्टिक मिसाइल को नौसेना की स्वदेशी परमाणु- पनडुब्बियों INS अरिहंत से में तैनात किया जाएगा।


जो भारत की परमाणु हमला करने की क्षमता को और मजबूत करेगी। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) की ओर से रविवार को इंटरमीडिएट-रेंज पनडुब्बी-लॉन्च बैलिस्टिक मिसाइल K-4 का सफल परीक्षण महत्वपूर्ण उपलब्धि है।


विशेषज्ञों के अनुसार, इस परीक्षण के बाद से पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान की नींद उड़ गई है क्योंकि ये बैलिस्टिक मिसाइल कुछ ही पलों में चीन और पाकिस्तान के शहरों पर निशाना लगा उसे पूरी तरह से तबाह करने में सक्षम है।


जानकारी के मुताबिक, पिछले दो सालों में कई असफल प्रयासों के बाद मिसाइल का परीक्षण किया गया। पिछले साल नवंबर में भी इसका परीक्षण होने वाला था।


लेकिन बंगाल की खाड़ी में आए चक्रवाती तूफान बुलबुल की वजह से परीक्षण स्थगित करना पड़ा। भारत अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन समेत छह देशों में से एक है जो थल, वायु और जल से परमाणु मिसाइलें दागने में सक्षम है।