भाजपा और वाम दल ही वंशवाद की राजनीति से दूर : जेपी नड्डा 



नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने रविवार को यहां कहा कि भाजपा और वाम दलों को छोड़कर कोई भी क्षेत्रीय या राष्ट्रीय दल वंशवाद की राजनीति से अछूता नहीं है। यहां तालकटोरा स्टेडियम में बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, "देश में लगभग 2,300 राजनीतिक दल हैं, जिनमें सिर्फ 500 पार्टियों को चुनाव आयोग से मान्यता मिली है।


इनमें 56 क्षेत्रीय और सात राष्ट्रीय पार्टियां हैं। आपको इस बात पर गर्व होना चाहिए कि भाजपा अकेली ऐसी पार्टी है, जो विचारधारा पर आधारित है न कि वंशवाद पर।"उन्होंने कहा, "हमें यह समझना चाहिए। सभी पार्टियां वंशवाद पर आधारित हैं। भाजपा और वाम दलों को छोड़ दें तो कोई भी क्षेत्रीय या राष्ट्रीय दल ऐसा नहीं है, जो वंशवाद से अछूता हो।" उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया कि वे सही राजनीतिक दल में हैं।


उन्होंने कहा, "लोग कभी-कभी मौका या पसंद के आधार पर राजनीतिक दलों में शामिल होते हैं। मैं आपको बताना चाहता हूं कि आप सही जगह आए हैं।" इस साल फरवरी में दिल्ली विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा विभिन्न अभियान चला रही है।