40 किलो पीतल और 51 किलो चांदी की ईंटें राम जन्म भूमि न्यास को देंगे संत

 


नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग) अखिल भारतीय संत समिति ने रामजन्मभूमि न्यास को 40 किलोग्राम पीतल और 51 किलोग्राम चांदी की ईंटें देने का फैसला किया है। शनिवार को संत समिति की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में यह फैसला किया गया। गुजरात के आनंद में आयोजित संत समिति की बैठक में सप्तम कुबेराचार्य स्वामी अविचल दास जी को समिति का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया, जबकि स्वामी जितेंद्रस्वामी और मनमोहन दास जी को महामंत्री बनाया गया।


समिति की ओर से जारी बयान के अनुसार, बैठक में तीन अहम प्रस्ताव पारित किए गए। पहला प्रस्ताव राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाने से जुड़ा है। प्रस्ताव में कहा गया कि भव्य राम मंदिर बनाने के पक्ष में विश्व हिंदू परिषद और संघ परिवार जो भी निर्णय लेगा, संत समिति उसका समर्थन करेगी। 


प्रस्ताव में सर्वोच्च न्यायालय के प्रति सम्मान प्रकट किया गया और इस संघर्ष में जीवन समर्पित कर चुके लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। प्रस्ताव में यह भी कहा गया है कि राम जन्मभूमि न्यास द्वारा जुटाई गई शिलाओं का ही उपयोग मंदिर निर्माण में किया जाए।


दूसरा प्रस्ताव नागरिकता कानून से संबंधित था, जिसमें सरकार का समर्थन किया गया है। समिति ने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को धन्यवाद देते हुए सीएए और अनुच्छेद 370 पर सरकार के साथ चट्टान की तरह खड़े रहने की बात कही है। समिति ने जम्मू-कश्मीर के हर जिले और प्रत्येक गांव में एक संत को स्थापित करने का निर्णय भी लिया है।