विजय माल्या के बाद नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित



मुंबई (स्वतंत्र प्रयाग ) : मुंबई स्थित विशेष पीएमएलए (धन शोधन निवारण अधिनियम) अदालत ने गुरुवार को अरबपति आभूषण व्यापारी नीरव मोदी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कर दिया। विजय माल्या के बाद नीरव मोदी दूसरा कारोबारी है जिसे भगोड़ा आर्थिक अपराधी कानून के पिछले साल अस्तित्व में आने के बाद इसके दायरे में लाया गया है।


प्रवर्तन निदेशालय और डायमंड कारोबारी के वकीलों के बीच लंबी बहस के बाद स्पेशल पीएमएलए कोर्ट के जज वीसी बारडे ने नीरव मोदी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया।


नीरव मोदी ने इससे पहले कोर्ट से अपील की थी कि ईडी की मांग को खारिज कर दिया जाए।
नीरव मोदी और उसका चाचा मेहुल चोकसी पीएनबी धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी है। यह गारंटी पत्र जारी करने में कथित धोखाधड़ी से जुड़ा है जिसकी वजह से सरकारी बैंक को नुकसान उठाना पड़ा था। नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार किया गया था और अभी प्रत्यर्पण प्रक्रिया लंबित है।


उल्लेखनीय है कि इससे पहले भगोड़े नीरव मोदी ने यूके की कोर्ट में कहा था कि अगर उन्हें भारत प्रत्यर्पित किया गया तो वह खुद को मार लेगा, उस दौरान ब्रिटेन की अदालत ने भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की नई जमानत याचिका खारिज कर दी थी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी