उप्र में की जा रही है नकलविहीन परीक्षा की व्यवस्था: डॉ. शर्मा 


मथुरा (स्वतंत्र प्रयाग) : उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार ने नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए नई व्यवस्था की है।डॉ. शर्मा ने सोमवार को “यूनीवार्ता” से बातचीत में कहा कि प्रदेश में नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए राउटर तथा वायस रिकार्डिंग को सीसीटीवी के साथ जोड दिया गया है जिससे एक केन्द्रीयकृत मानीटरिंग केन्द्र बनाकर नकलविहीन परीक्षाएं कराई जा सकें।


उन्होंने बताया कि इसके साथ ही परीक्षा प्रणाली की शुचिता को बनाए रखने के लिए एक उच्चस्तरीय विशेषज्ञ समित का गठन किया है जिसके सदस्य प्रो0 मणीन्द अग्रवाल, उप निदेशक आई.आई.टी. कानपुर, प्रो. विनय कुमार पाठक, कुलपति यूपीटीयू तथा प्रो. सुरेन्द्र दुबे, कुलपति सिद्धार्थ विश्वविद्यालय कपिलवस्तु सिद्धार्थनगर हैं।


समिति के सदस्यों से एक माह में अपनी रिपोर्ट देने को कहा गया है। यह समिति मुख्य रूप से प्रश्नपत्र बनाने, माॅडरेशन प्रक्रिया और मूल्यांकन कार्य को नवीनतम तकनीक से लैस करने और किसी प्रकार की अनियमितता की संभावना को नगण्य करने की प्रणाली विकसित करने पर सुझाव देगी।