शै होप तीनों प्रारूपों में विंडीज के पास सर्वश्रेष्ठ विकल्प : लारा



नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): महान बल्लेबाज ब्रायन लारा को लगता है कि शै होप खेल के तीनों प्रारूप में विंडीज के पास मौजूद सर्वश्रेष्ठ विकल्प हैं। होप ने रविवार को खेले गए पहले वनडे में भारत के खिलाफ नाबाद 102 रनों की पारी खेली और टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने शिमरन हेटमायेर (139) के साथ दूसरे विकेट के लिए 218 रनों की साझेदारी कर टीम की जीत की नींव भी रखी।


हेटमायेर के आउट होने के बाद उन्होंने अंत तक खड़े होकर टीम को जीत भी दिलाई। लारा ने यहां ऊषा इंटरनेशनल के एक कार्यक्रम से इतर आईएएनएस से कहा, "अभी मुझे लगता है कि बल्लेबाजों को देखेंगे तो शै होप खेल के तीनों प्रारूपों में विंडीज के पास सबसे अच्छा विकल्प हैं। वह ज्यादा बुरे आक्रामक खिलाड़ी नहीं हैं, अच्छे टेस्ट खिलाड़ी हैं। वह अच्छा करेंगे।


"उन्होंने कहा, "निकोलस पूरन, हेटमायेर और यहां तक कि ब्रेंडन किंग टीम की नई खोज हैं। यह ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें आप किसी भी तरह मोड़ सकते हैं। मुझे लगता है कि यह लोग अन्य खिलाड़ियों की अपेक्षा ज्यादा परिपक्व होंगे। कुछ खिलाड़ी होते हैं जो जल्दी परिपक्व हो जाते हैं जैसे कि सचिन तेंदुलकर जो 16 साल की उम्र में ही परिपक्व हो गए थे और कार्ल हूपर, वह भी जल्दी परिपक्व हो गए थे। जीवन में अगर देर से परिपक्वता आती है तो बुरी बात नहीं है।"


विंडीज के नए कप्तान केरन पोलार्ड ने हाल ही में कहा था कि विंडीज की टीम का लक्ष्य वनडे में बेहतर बनना है। लारा को लगता है कि अगर पोलार्ड को सपना सच करना है तो टीम को मध्य के ओवरों में समय लेने की जरूरत है। उन्होंने कहा, "मैं उस दौर में वापस जा सकता हूं जब हम खेला करते थे। मैं काफी हद तक छोटी कद काठी का खिलाड़ी था, काफी ताकतवर नहीं और मुझे लगता है कि वनडे मैचों ने मुझे अच्छे से परिपक्व होने में मदद की है।


मध्य के ओवर काफी अहम होते हैं। जब आप 20 ओवर या 50 ओवर के खेल की तुलना करते हो तो इनमें काफी अंतर है।" उन्होंने कहा, "कुछ खिलाड़ी हर गेंद को मारने के बारे में सोचते हैं। आपको समझना होगा कि यह सात घंटों का मैच है और इसमें काफी कुछ हो सकता है।"लारा को लगता है कि अगर विंडीज की टीम को मजबूत बनना है तो विंडीज के चयनकर्ताओं को युवा खिलाड़ियों को समय और सुरक्षा देनी होगी ताकि वह आराम से बिना डर के खेल सकें। उन्होंने कहा, "वेस्टइंडीज को समझना होगा और धैर्य रखना होगा।


आपको यह बात सुनिश्चित करना होगी कि आप हर समय सही चीज मुहैया कराएं। आपके खिलाड़ी अगर टीम से अंदर-बाहर होते रहे तो आत्मविश्वास खो देंगे। उन्हें पता होना चाहिए कि खिलाड़ियों में प्रतिभा है और इनका साथ दिया जाए।" लारा ने कहा कि भारत के खिलाफ खेली गई सीरीज में विंडीज के लिए सबसे अच्छी बात उसकी बल्लेबाजी रही जबकि गेंदबाजी पर टीम को काम करने की जरूरत है।


बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, "मुझे लगता है कि वह जानते हैं कि अनुभव के साथ बल्लेबाजी बेहतर हो जाएगी। हां, गेंदबाजी में उन्हें थोड़ा बदलाव करने की जरूरत है ताकि सही संयोजन को पहचाना जा सके। उम्मीद है कि इस सीरीज से वह काफी कुछ सीखेंगे और उन्हें इससे आत्मविश्वास मिलेगा। विश्व कप में नौ-दस महीनों का समय बचा है और मुझे पूरी उम्मीद है कि विंडीज अपने आप को वहां अच्छे से प्रदर्शित करेगी।


" लारा को लगता है कि पोलार्ड का अनुभव टीम के युवा खिलाड़ियों के बेहद जरूरी होगा।उन्होंने कहा, "पोलार्ड को बड़ा काम दिया गया है। उन पर कप्तान के तौर पर एक बड़ी जिम्मेदारी है। उनके पास पूरे विश्व का अनुभव है इसलिए उनके पास मौका है कि वे वेस्टइंडीज क्रिकेट को कुछ दें। मुझे लगता है कि युवा खिलाड़ियों पर उनका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।


" हाल ही में हरफनमौला खिलाड़ी ड्वायन ब्रावो संन्यास से वापसी कर रहे हैं और उन्होंने अपने आप को चयन के लिए उपलब्ध भी बताया है। ब्रावो की वापसी पर पूर्व कप्तान ने कहा, "मैं जानता हूं कि वह संन्यास से वापसी कर रहे हैं और वह एक बार फिर चयन के लिए उपलब्ध होंगे। वह हमेशा से शानदार खिलाड़ी रहे हैं, लेकिन उन्हें फिट रहना होगा। टीम के पास युवा खिलाड़ियों का अच्छा समूह है


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में