सोमवार, 9 दिसंबर 2019

शांति समझौते पर हस्ताक्षर कर सकते है अमेरिका-तालिबान


काबुल (स्वतंत्र प्रयाग)- आतंकवादी संगठन तालिबान और अमेरिका के बीच पिछले तीन महीने से चल रही बातचीत बंद होने के बाद अब दोनों पक्ष इस सप्ताह में शान्ति समझौते पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। प्राप्त रिपोर्टो के अनुसार तालिबान अफगानिस्तान में 48 घंटों के लिए अपने हमलों को रोकने के लिए तैयार हो गया है और उम्मीद है कि जल्द ही दोनों पक्ष समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे।


अमेरिका और तालिबान के बीच आखिरी वार्ता सितंबर माह में हुई थी। अफगानिस्तान में अमेरिकी कर्मचारी पर तालिबान के हमले के बाद अमेरिका ने समझौते पर हस्ताक्षर करने से इंकार कर दिया था। इससे पहले रविवार को तालिबान ने घोषणा करते हुए कहा कि उसने तीन महीने बाद अमेरिका के साथ दोहा में फिर से वार्ता शुरू कर दी है।


तालिबान के नजदीकी सूत्र ने बताया कि दोहा में हिंसा को रोकने और अन्य शर्तों पर चर्चा की गई है। उन्होंने कहा, “अगले सप्ताह चर्चा के दौरान शान्ति समझौते पर हस्ताक्षर किया जा सकते है और इससे पहले 48 घंटों के लिए किसी भी तरह के हमलों को रोकने की बात कही गयी है।


” अन्य सूत्रों ने बताया कि शान्ति समझौता तय करने के बाद अमेरिका, तालिबान और अफगानिस्तान कैंप डेविड में त्रिपक्षीय बैठक करेंगे जो अमेरिकी कर्मचारी पर तालिबान के हमले की वजह से इस वर्ष सितंबर में रद्द हो कर दी गयी थी।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें