प्राचीन मंदिरों का संरक्षण करे सरकार: शुक्ला 


नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): भारतीय जनता पार्टी के शिव प्रताप शुक्ला ने गुरुवार को राज्यसभा में प्राचीन मंदिरों का संरक्षण करने की मांग की और कहा कि इनके माध्यम से पर्यटन को बढ़ावा दिया जा सकता है।शुक्ला ने सदन में शून्यकाल के दौरान कहा कि मध्यप्रदेश के मुरैना के पटेसर में चौसठ योगिनी मंदिर के संरक्षण करने मांग करते हुए कहा कि इसकी तर्ज पर ही भारतीय लोकतंत्र मंदिर संसद भवन का निर्माण किया गया है।


उन्होंने कहा कि यह मंदिर ढहने के करार पर पहुंच गया है। यह मंदिर परिसर 25 एकड़ में फैला है आैर इसमें 200 मंदिर हैं।उन्होेंने कहा कि इन मंदिरों के संरक्षण से पर्यटन को बढ़ावा दिया जा सकता है और क्षेत्र की हालत में सुधार हाे सकता है। कांग्रेस की कुमारी सैलजा ने उनका समर्थन किया।


बीजू जनता दल के सरोजिनी हैमब्रम ने बारीपदा को उडान योजना में शामिल करने की मांग करते हुए कहा कि क्षेत्र में एक हवाई पट्टी है जो बेकार पड़ी है। केंद्र को यह हवाई पट्टी रक्षा मंत्रालय से लेकर राज्य सरकार को दे देनी चाहिए जिससे इसका विकास किया जा सके। फैसले से पूरे उत्तर ओडिशा के अलावा झारखंड और अन्य पड़ोसी राज्यों को लाभ होगा।


भाजपा के जी वी एल नरसिम्हा ने कहा कि मुंबई आतंकी हमलों के मास्टर माइंड हाफिज सईद को दंडित कराने के लिए अंतर्राष्ट्रीय दबाव बनाने का प्रयास करना चाहिए। पाकिस्तान न्यायिक प्रक्रिया का छलावा कर रहा है। भाजपा के टी जी वेंकटेश ने कहा कि बंगलादेश से हो रहे आयात पर शुल्क लगाया जाना चाहिए। सस्ते आयात से घरेलू उद्योगों को नुकसान हो रहा है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में