फड़नवीस ने किसानों के मुद्दे पर महाराष्ट्र सरकार को घेरा


नागपुर (स्वतंत्र प्रयाग): महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने मंत्रिमंडल विस्तार और किसानों के मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार पर निशाना साधा है। फड़नवीस का बयान महाराष्ट्र विधानसभा के शीतकालीन सत्र के एक दिन पहले आया है।


उन्होंने कहा कि सरकार बने काफी दिन हो गए हैं लेकिन अभी तक मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हुआ है।फड़नवीस ने कहा, “गठबंधन सरकार की तीनों पार्टियों के बीच संचार की कमी के कारण इस बारे में कोई निर्णय नहीं हो पा रहा है कि किसे कौन सा विभाग दिया जाए। मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कई सारे सवाल खड़े हो रहे हैं।


शीतकालीन सत्र से पहले सरकार के पास काफी समय था लेकिन मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं होना इस बात का सबूत है कि सरकार सत्र को लेकर गंभीर नहीं है।” मुख्यमंत्री ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना सरकार के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार द्वारा शुरु किए कामों को बंद करने पर उन्होंने कहा, “इससे पहले सरकार में शिवसेना हमारे साथ थी और सारे निर्णय दोनों दलों ने साथ मिलकर लिए थे। लेकिन अब शिवसेना इन फैसलों का विरोध कर काम रोक रही है।”
 
पूर्व मुख्यमंत्री ने राज्य की आर्थिक स्थिति को लेकर सरकार पर गलत जानकारी देने का आरोप लगाया। फड़नवीस ने कहा, “शिवसेना पहले हर किसानों के लिए 25000 देने की मांग करती थी लेकिन अब मुख्यमंत्री ठाकरे की सरकार को जल्द से जल्द इस बारे में फैसला लेना चाहिए।


सरकार को किसानों का 23000 करोड़ का ऋण भी माफ करना चाहिए।” गौरतलब है कि महाराष्ट्र विधानसभा का शीतकालीन सत्र 16 दिसंबर से शुरु होकर 21 दिसंबर तक चलेगा