लखनऊ में महिलाओं को घर बैठे न्याय देने की तैयारी


लखनऊ (स्वतंत्र प्रयाग): महिला सुरक्षा को और मजबूत बनाने के लिए उन्हें घर बैठे न्याय देने की राजधानी में तैयारी हो रही है। अगर किसी महिला को सरकारी योजनाओं का लाभ लेने में परेशानी हो या फिर उत्पीड़न के संबंध में बताना हो तो, वे प्रशासन द्वारा जारी व्हाट्सएप नम्बर पर शिकायत दर्ज करा सकती हैं।


लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया, "ऐसी अधिकतर महिलाएं हैं, जो थाना और तहसीलों तक अपनी शिकायतों को लेकर नहीं पहुंच पाती हैं। उनकी सुरक्षा के लिए महिलाओं को अब प्रशासन घर बैठे न्याय देने की पहल करने जा रहा है।


"उन्होंने बताया कि अगर किसी महिला के साथ किसी प्रकार का उत्पीड़न हो, या फिर उसे सरकारी योजनों के लाभ में अड़चन हो तो प्रशासन द्वारा जारी व्हाट्सएप नंबर पर शिकायत दर्ज करा सकती हैं। इसके साथ ही महिला प्रकोष्ठ सेंटर में भी शिकायत कर सकती हैं।


सरकार ने  9454416517 नम्बर जारी किया है और इसके लिए एक ईमेल पता भी जारी किया है। महिला प्रकोष्ठ प्रत्येक कार्यदिवस पर सुबह 9:30 से 11:30 तक सक्रिय रहेगा। इसके लिए दिवसवार अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है।


शिकायतों के स्वरूप के आधार पर निस्तारण का समय निर्धारित किया गया है।कलेक्ट्रेट में महिला प्रकोष्ठ सेंटर स्थापित किया गया है। यह प्रकोष्ठ न केवल राजधानी में महिला उत्पीड़न या हिंसा से जुड़े मामलों को तत्काल संबधित और सक्षम अधिकारियों तक पहुंचाएगा, बल्कि सरकारी महकमों में किसी तरह की दिक्कत को भी दूर करेगा।


महिला उत्पीड़न या अपराध संबंधी शिकायत पर तत्काल एक्शन होगा। इसके अलावा विभिन्न योजनाओं और प्रमाणपत्रों के बारे में निस्तारण पांच दिन में किया जाएगा। पेंशन से संबंधित प्रकरण का निस्तारण दस दिन में निपटाया जाएगा। निश्चित समयावधि में ही शिकायतों का निस्तारण करना होगा। इसके लिए नोडल अफसरों की ड्यूटी लगाई गई है। डीएम खुद इसकी मॉनीटिरिंग करेंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी