कांग्रेस की मंशा के अनुरूप किया गया वार्डो का परिसीमन


अजमेर (स्वतंत्र प्रयाग): राजस्थान में अजमेर जिले के पुष्कर विधायक सुरेश सिंह रावत ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए जिले में नवसृजित अजमेर ग्रामीण पंचायत समिति वार्डों के गठन में भारी धांधली किए जाने का आरोप लगाया है।उन्होंने राज्य सरकार व कांग्रेस पार्टी पर जिला प्रशासन का दुरुपयोग कर वार्डों का परिसीमन कांग्रेस के अनुसार किए जाने की बात कहते हुए इसे जनता के साथ धोखा तथा सत्ता का दुरुपयोग करार देते हुए लोकतंत्र की हत्या करार दिया है।


उन्होंने कहा कि वार्डों का परिसीमन पूरी तरह गलत व बेबुनियाद है। रावत ने नये परिसीमन में की गई धांधलियों की न्यायिक जांच की भी मांग की है।इससे पहले जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा को दिए गए ज्ञापन में उन्होंने पुष्कर क्षेत्र के गांव का हवाला देते हुए एतराज उठाया है।


उन्होंने वार्ड संख्या 20, वार्ड संख्या 24, वार्ड संख्या 25, वार्ड संख्या 35 में करे गये परिसीमन में गांव की दूरी को आधार बनाया है जिसमें कुछ गांव में पच्चीस से तीस किलोमीटर की दूरी का अंतराल है जबकि कुछ कांग्रेस बाहुल्य वार्ड ऐसे हैं जहां दूरी को घटाकर दिया गया है।


उन्होंने ज्ञापन मे आरोप लगाया कि कांग्रेस बाहुल्य क्षेत्र में छह से सात हजार की जनसंख्या पर वार्ड बनाए गए है जबकि भाजपा बाहुल्य क्षेत्र में आठ से बारह हजार की जनसंख्या का मापदंड रखा गया है। यह बड़ा अंतर कांग्रेस के इशारे पर किया गया है जो स्वच्छ राजनीति के लिए अच्छा संकेत नहीं है।


ज्ञापन में रावत ने सभी वार्डों को नियमानुसार भौगोलिक जनसांख्यिक, पंचायत मुख्यालय से दूरी आदि मापदंडों को अपनाकर संशोधन करने की मांग की है ताकि यह आमजन व मतदाताओं के हित में रहे। ज्ञापन देने वालों में पुष्कर विधानसभा क्षेत्र के अनेक लोग उपस्थित रहे।