CAA कानून पर बोले अमेरिकी विदेश मंत्री , कहा अल्पसंख्यकों के धार्मिक अधिकारों का हनन न हो-: किमाइक पोम्पियो


 


वॉशिंगटन(स्वतंत्र प्रयाग) अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि हम भारतीय लोकतंत्र का सम्मान करते हैं।साथ ही उन्होंने कहा कि देश में नागरिकता और धार्मिक आजादी जैसे मुद्दों पर मजबूत बहस छेड़ी है। हम इस बात की परवाह करते हैं कि हर जगह अल्पसंख्यकों के धार्मिक अधिकारों का हनन न हो।


अमेरिका न केवल भारत में बल्कि दुनियाभर में इन मुद्दों पर प्रतिक्रिया देता रहा है।माइक पोम्पियो ने भारत में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों से जुड़े सवाल पर यह बात कही। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने 18 दिसंबर को 'टू प्लस टू' बातचीत के लिए भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर की मेजबानी की,साथ ही एक सवाल पर जब आरोप लगाया गया ।


कि यह कानून धार्मिक आधार पर नागरिकों से भेदभाव कर रहा है।तो इसके जवाब में एस जयशंकर बोले।आपने जो सवाल किया है वो भारत से जुड़ा है, अगर आप इसे ध्यान से पढ़ेंगे तो पाएंगे कि ये एक ऐसा उपाय है जो कुछ देशों के सताए हुए धार्मिक अल्पसंख्यकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए बनाया गया है ।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में