मंगलवार, 24 दिसंबर 2019

बीकानेर में 23 राष्ट्रीय पक्षी मोरों की हुई  निसंस हत्या



बीकानेर (स्वतंत्र प्रयाग): सेरूणा क्षेत्र की रोही के खेत में एक साथ जहरीला दाना डालकर 23 राष्ट्रीय पक्षी मोर मरने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर सभी मोरों का पोस्टमार्टम करवा आरोपी को गिरफ्तार किया। बताया जा रहा है कि फसल की क्षति रोकने के लिए व्यक्ति ने मोरों को जहरीला दाना डाला। वन विभाग के एसीजेएम इकबाल ने जानकारी देते हुए बताया कि सेरूणा की रोही में अजमेर जाखड़ के खेत से 23 मोरों के शव बरामद हुए हैं। मृत मोरों का श्रीडूंगरगढ़ के पशु चिकित्सालय में बोर्ड गठित कर पोस्टमार्टम कराया गया। घटना रविवार देर रात की है। श्रीडूंगरगढ़ वन विभाग के एसीएफ इकबाल सिंह ने बताया कि सेरूणा की रोही में हरियाणा के एक व्यक्ति का खेत है। खेत को सेरूणा निवासी दिनेश कुमार पुत्र रामकुमार काश्त करता है। रविवार रात करीब आठ बजे मोरों के शिकार की सूचना मिली थी। घटनास्थल से 18 मृत मोर बरामद किए गए। रात को अंधेरा होने के कारण सोमवार सुबह वापस मौका मुआयना करने खेत पर पहुंचे। तब पांच और मोरों के शव बरामद किए गए। खेत से कुल 23 मृत मोर मिले हैं।


एसीएफ सिंह ने बताया कि प्रारम्भिक पड़ताल में ग्रामीणों से पता चला कि आरोपी दिनेश ने खेत में हरे मटर की खेती की है। फसल को पक्षी नुकसान पहुंचाते हैं, इसलिए फसल बचाने के लिए उसने पक्षियों को जहरीला दाना डाला। यह दाना खाने से मोरों की मौत हुई है। इसके बाद आरोपी दिनेश को गिरफ्तार कर लिया गया। श्रीडूंगरढ़ के वन विभाग कार्यालय में बने रेस्क्यू सेंटर में छह चिकित्सकों के दो बोर्ड गठित कर सभी मोरों के शव का पोस्टमार्टम करवाकर दफनाया गया। मोरों के विसरा को एफएसएल बीकानेर भेजा गया हैं।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें