बायो मैडीकल वेस्ट को सुरक्षित और वैज्ञानिक ढंग से निपटाया जाए :सिद्धू

 


चंडीगढ़ (स्वतंत्र प्रयाग)-पंजाब के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिद्धू ने बायो मैडीकल वेस्ट मैनेजमेंट रूल्ज 2016 के उल्लंघन पर नोटिस लेते हुए उक्त नियमों के पालन के लिए सरकारी और प्राईवेट स्वास्थ्य संस्थाओं को कड़े निर्देश जारी किये हैं। सिद्धू ने आज यहां बताया कि बायो मैडीकल अवशेष हमारे स्वास्थ्य तथा पर्यावरण के लिए बड़ा खतरा है । पराली जलाने, औद्योगिक अवशेष, सीवरेज और अन्य प्रदूषण की तरह यह भी स्वास्थ्य के लिये घातक हैं।


इसलिये इसे बाहर फैंकने के बजाय बायो -मैडीकल अवशेष को नियमों के मुताबिक सुरक्षित और वैज्ञानिक ढंग से ही निपटान किया जाना चाहिए। उनके अनुसार देखने में आया है कि स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने वाले कई अस्पताल अपने बायो मैडीकल वेस्ट का वैज्ञानिक ढंग से निपटान नहीं कर रही हैं जिससे संक्रामक बीमारियाँ विशेषकर एच.आई.वी, हैपेटाईटस बी और सी और टैटनस फैलने का डर बना रहता है।


राज्य में सुरक्षित और बीमारी मुक्त पर्यावरण मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है और इसको लेकर कई कदम उठाए गए हैं।सिद्धू ने कहा कि जिला और ब्लॉक स्तर पर बायो वेस्ट मैनेजमेंट को लेकर निरंतर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। सिविल सर्जनों को निर्देश भी दिए गए हैं कि वे पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के सहयोग से मापदंडों के यथावत पालन को यकीनी बनाएं। उल्लंघन करने वालों को किसी भी कीमत पर बक्शा नहीं जायेगा और गलत काम करने वाले अधिकारियों और जि़म्मेदार व्यक्तियों के खि़लाफ़ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी