स्वामी आनंद गिरि डॉक्टरेट की मानद उपाधि से विभूषित

बेंगलुरु (स्वतंत्र प्रयाग)अंतर्राष्ट्रीय योग गुरु स्वामी आनंद गिरि को बेंगलुरु में ग्लोबल इकनॉमिक प्रोग्रेस रिसर्च एसोसिएशन के वार्षिक कार्यक्रम के भव्य समारोह में डॉक्टरेट की मानद उपाधि से विभूषित किया गया है। यह उपाधि स्वामी आनंद गिरि को इंग्लैंड के प्रतिष्ठित एश्क्रोफ्ट विश्वविद्यालय द्वारा योग एवं अध्यात्म के क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कार्य करने हेतु दी गई।


आपको बता दें कि स्वामी आनंद गिरि पिछले एक दशक से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर योग एवं अध्यात्म के क्षेत्र में समर्पित रूप से कार्य कर रहे हैं। स्वामी आनंद गिरि को डॉक्टरेट की मानद उपाधि से विभूषित किये जाने पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महन्त नरेंद्र गिरि महराज ने बधाई दी है। इसके अतिरिक्त प्रयागराज के साहित्य, शिक्षा, समाज, धर्म और संस्कृति से जुड़े सैकड़ों लोगों ने बधाई दी। 


गुरु को समर्पित की उपाधि


डॉक्टरेट की मानद उपाधि को सर्वप्रथम अपने गुरु बाघम्बरी पीठाधीश्वर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री महंत नरेंद्र गिरि जी महराज को समर्पित करते हुए स्वामी आनंद गिरि ने कहा कि आज वो जो कुछ भी जीवन में प्राप्त कर पाये हैं।


वह सब गुरुजी के आशीर्वाद से हुआ है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि भारतवर्ष आज सम्पूर्ण विश्व मे अपनी संस्कृति, संस्कार एवं सभ्यता एवं योग के लिए जाना जाता है। और हम इनके प्रचार प्रसार और संरक्षण के लिए आजीवन कार्य करते रहेंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में