कल से बदल रही हैं आम आदमी से जुड़ी ये चीजें, न जानने पर होगा नुक्सान


नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग) - दिसंबर यानी कि कल से कई बदलाव होने वाले हैं जिससे आपकी जेब पर सीधा असर पड़ेगा। कल से कई फाइनेंशियल बदलाव होने जा रहे हैं। जिनके बारे में आपका जाना काफी जरूरी है। इसमें LIC, पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम, मोबाइल टैरिफ आदि से जुड़ी कई चीजें शामिल हैं। आइए जानते हैं कि कल से क्या-क्या बदलाव देखने को मिल सकते हैं।


पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम के लिए आधार लिंक करना जरूरी केंद्र सरकार ने पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम की किश्त पाने के लिए आधार नंबर को लिंक करवाने की अंतिम तारीख 30 नंवबर तय की है। अगर किसी ने इसे लिंक करवाने में देरी की तो उसके खाते में 6000 रुपए नहीं आएंगे। इसके लिए मोदी सरकार ने 30 नवंबर 2019 की तारीख तय की है।


अगर आपने इस दौरान ऐसा नहीं किया तो खेती-किसानी के लिए 6000 रुपए की मदद नहीं मिलेगी। हालांकि, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, असम और मेघालय के किसानों को 31 मार्च 2020 तक यह मौका दिया गया है।


टैरिफ प्लान के दाम बढ़ाने की तैयारी में टेलीकॉम कंपनियां
कल से मोबाइल फोन उपभोक्ताओं के लिए कॉलिंग (Vodafone, Idea, Airtel to increase tariffs 1 December) के साथ-साथ इंटरनेट का इस्तेमाल करना भी महंगा हो जाएगा। मतलब साफ है कि टेलीकॉम कंपनियां टैरिफ प्लान के दाम बढ़ाने की तैयारी में है। टेलीकॉम कंपनियां (Idea, Vodafone, Airtel) इसको लेकर पहले ही ऐलान कर चुकी है।लाइफ इश्योरेंस के नियमों में होंगे कई बदलाव।


दिसंबर में लाइफ इंश्योरेंस को लेकर कई नियमों में बदलाव होने वाला है। इसलिए अगर आप नई पॉलिसी लेने के बारे में सोच रहे हैं तो थोड़ा इंतजार कर सकते हैं। इंश्योरेंस रेगुलेटरी ऐंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया 1 दिसंबर को लाइफ इंश्योरेंस सेक्टर के लिए नया नियम लागू करने जा रहा है।


माना जा रहा है कि नए नियम के तहत प्रीमियम थोड़ा महंगा हो सकता है और गारंटीड रिटर्न थोड़ा कम हो सकता है। आईडीबीआई फेडरल लाइफ इंश्योरेंस के सीएमओ कार्तिक रमन का कहना है कि अगर प्रीमियम महंगा होगा तो ग्राहकों को ज्यादा फीचर्स का लाभ मिलेगा।


एलआईसी प्लानंस और प्रपोसल फॉर्म में होंगे बड़े बदलाव
लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) 1 दिसंबर 2019 से कंपनी अपने प्लानंस और प्रपोसल फॉर्म में बड़े बदलवाव करने जा रही है। इंश्योरेंस रेगुलेटरी अथॉरटी ऑफ इंडिया (आईआरडीएआई) के नई गाइडलाइन्स के लागू होने के बाद एलआईसी के नए प्रपोसल फॉर्म अब पहले से ज्यादा लंबे और कंप्रिहेंसिव होंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें