एमएनएनआई के पुराछात्रों के सम्मेलन का हुआ समापन,  फिर मिलेंगे वायदे के साथ हुए जुदा

 




प्रयागराज (स्वतंत्रप्रयाग)
प्रयागराज:-मोती लाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्था (एमएनएनआईटी) में रविवार को पुराछात्र सम्मेलन का आखिरी दिन था। पुराछात्र हॉस्टल के उन कमरों में भी गए, जहां रहकर उन्होंने अपना भविष्य संवारा। कमरे में पहुंचते ही तमाम पुराछात्र भावुक हो गए। वहां रह रहे छात्रों से उन्होंने अपने अनुभव साझा किए।



सबने साथ मिलकर मेस में चाय-नाश्ता किया। इससे पूर्व सुबह-सुबह ही पुराछात्र संगम की सैर के लिए निकल पड़े। वहां स्नान और पूजापाठ के साथ सेल्फी भी ली। हर कोई इस पल को जी लेना चाहता था। पुराछात्र स्टूडेंट लाइफ वाली मस्ती के मूड में भी नजर आए। संगम की सैर करने के बाद सभी एमपी हॉल में इकट्ठा हुए। वहां विभागाध्यक्षों और सेक्शन इंचार्ज के साथ बैठक हुई।
इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेश डिपार्टमेंट में एसोसिएट प्रोफेसर एवं पुराछात्र संगठन के सचिव डॉ. संजीव ने बताया कि बैठक में पुराछात्रों ने औद्योगिक इकाइयों की जरूरतों और उसके अनुरूप प्रोफेशनल तैयार करने की जरूरत पर बल दिया। पुराछात्रों एवं संस्थान के बीच किस प्रकार संपर्क बना रहे और संचार होता रहे, इस पर भी चर्चा हुई। 'अगले साल फिर मिलेंगे' का वादा कर देर शाम पुराछात्र यादों की पोटली संग रवाना हो गए। 1979 के पुराछात्र सुभाष चुग ने एमएनएनआईटी के छात्रों को फूल देकर उनका स्वागत किया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी