भाजपा के साथ चुनाव ल़डने से शिवसेना को चुनाव में मिली कामयाबी : रविशंकर

रांची (स्वतंत्र प्रयाग): केंद्रीय विधि मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने महाराष्ट्र के राजनीतिक उलटफेर को लेकर शिवसेना पर निशाना साधते हुए आज कहा कि भाजपा के कंधे पर सवार होकर ही शिवसेना को लोकसभा और विधानसभा के चुनाव में कामयाबी मिली है।


प्रसाद ने यहां झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का घोषणा-पत्र जारी करने के बाद संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल के जवाब में कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने भाजपा-शिवसेना के गठबंधन को बहुमत दिया लेकिन वहां जो सरकार बनी वह अवसरवाद का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। उन्होंने कहा कि भाजपा के कंधे पर सवार होकर ही शिवसेना को लोकसभा और विधानसभा के चुनाव में कामयाबी मिली है।


वहीं, हरियाणा विधानसभा चुनाव में भाजपा अकेली सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी और बाद में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) गठबंधन में शामिल हुआ और वहां सरकार बनी।
भाजपा नेता ने कहा कि भाजपा का झारखंड के साथ भावनात्मक रिश्ता रहा है।


उन्होंने कहा कि झारखंड के अलग राज्य के रूप में गठन की मांग लंबे समय तक चली लेकिन अंतत: जनसंघ और भाजपा ने ही इस मांग का समर्थन किया और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार बनते ही झारखंड का गठन किया गया।


प्रसाद ने कहा कि झारखंड में हमेशा राजनीतिक अस्थिरता हावी रही है। विपक्षी दलों ने अपने-अपने स्वार्थ की सिद्धि के लिए कभी भी राज्य में राजनीतिक स्थिरता नहीं रहने दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास और भाजपा ने राज्य में स्थिरता के साथ ही विकास को सुनिश्चित किया है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में