मोदी सरकार के प्रस्ताव पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर, तुगलकाबाद में ही बनेगा गुरु रविदास मंदिर

राष्ट्रीय मुख्य समाचारनई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट में आज बड़ी जीत हासिल हुई है। गुरु रविदास मंदिर बनाने का जो प्रस्ताव केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया था उसे सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है। जिस स्थान पर मंदिर को गिराया गया था वह साइट श्रद्धालुओं की एक कमेटी को दी जाएगी ताकि दक्षिण दिल्ली स्थित तुगलकाबाद में फिर से गुरु रविदास मंदिर बनाया जा सके। प्रस्ताव में केंद्र सरकार ने ये भी कहा कि मंदिर निर्माण के लिए अधिक जमीन दी जा सकती है ताकि भव्य मंदिर निर्माण किया जा सके। सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि निर्माण स्थल परिसर में कोई भी व्यावसायिक गतिविधि की इजाजत नहीं किया जाए और सुप्रीम कोर्ट 6 सप्ताह में एक कमेटी गठित करे। ये कमेटी निर्माण कार्य का जायजा लेगी। 
केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को शुक्रवार को बताया था कि वह दक्षिण दिल्ली में पहले वाली जगह पर ही गुरु रविदास मंदिर के निर्माण के लिए श्रद्धालुओं की एक समिति को 200 वर्ग मीटर जगह सौंपने का इच्छुक है। अटार्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल ने शुरूआत में कहा कि उन्होंने सभी पक्षकारों के साथ विचार-विमर्श किया। इस पर केंद्र स्थल के लिए श्रद्धालुओं की आस्था एवं संवेदनशीलता को देखते हुए भूमि का वही टुकड़ा देने के लिए सहमत हो गया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी