सुहागन महिलाओं ने वट सावित्री व्रत कर वट वृक्ष का पूजन किया


लालापुर/प्रयागराज,(स्वतंत्र प्रयाग )प्रति वर्षानुमान इस वर्ष भी ,आज शुक्रवार को ग्रामसभा गोइसरा के अश्वनीपुर गांव की औरतें ने वट सावित्री पूजा कर पति की लम्बी उम्र की कामना करते हुए वट ,बरगद की पूजा किया ।


 गोइसरा के बदवदा गांव के पास आज बरगद पूजा में अश्वनीपुर गांव की औरते  ने सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते हुए, बड़ अमावस्या  बरगद के विशालकाय वृक्ष की आज सुबह 10 बजे पूजा करने गई।


वट सावित्री की पूजा , ज्‍येष्‍ठ माह की अमावस्या को की जाती है।
 इसी दिन सती सावित्री अपने पति सत्‍यवान के प्राण यमराज से वापस लेकर आईं थीं।
 इसी दिन सुहागन महिलाएं पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखकर वटवृक्ष (बरगद) और यमदेव की पूजा करती हैं।


वट सावित्री पूजन बरगद के वृक्ष की पूजा विष्णु भगवान का रूप मानकर की जाती है, देशवासियों के कल्याण की कामना के साथ वट सावित्री पूजन की हार्दिक शुभकामनाएं ,क्योंकि भारत ऋषि प्रधान देश है।
ऋषियों नें प्रकृति पूजा,पर्यावरण की शुद्धि तथा नदियों की निर्मलता पर बहुत ज़ोर दिया है।


बरगद तथा पीपल को भगवान् श्रीलक्ष्मीनारायण बताया है,क्योंकि ये दोनों ऑक्सीजन देते हैं तथा कार्बन  डाइऑक्साइड को खींच लेते हैं,जो जीने के लिए आवश्यक है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर