1 जून से चलेंगी रोडवेज बसें, 30 यात्री हो सकेंगे सवार, बिना मास्क के नहीं मिलेगी एंट्री


उत्तर प्रदेश,(स्वतंत्र प्रयाग ) रोडवेज प्रबंधन ने 1 जून से बसें चलाने की कार्य योजना बनाई है, बशर्ते इस अवधि में कोई नई व्यवस्था शासनस्तर पर न प्रभावी हो।


 बसों को हरहाल में 30 मई तक फिट करने के निर्देश जारी किए जा चुके हैं,
डिपोवार काम भी शुरू करा दिया गया है। 


बस संचालन के दौरान जारी गाइडलाइन ,का शत प्रतिशत पालन कराने की जिम्मेदारी बस अड्डा प्रभारी से लेकर ड्राइवर-कंडेक्टर की होगी।


रोडवेज अफसरों ने बताया कि मास्क ,पहने व्यक्ति को ही बस अड्डा परिसर में प्रवेश की छूट रहेगी,
बस में कंडक्टर सीट के सामने सेनेटाइजर की बोतल रखी होगी,
 सेनेटाइज करने के बाद ही यात्री बैठेंगे। 


कंडक्टर और ड्राइवर को अलग से सेनेटाइजर की बोतल मिलेगी।


 बस की क्षमता के आधे ही यात्री सफर कर सकेंगे, यह संख्या बस की क्षमता पर तय होगी,
 सामान्तया 60 सीटर बस में 30,यात्री होंगे। 


एक गेट से इन ,तो दूसरे गेट से आउट ।


सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए बस अड्डे ,के एक गेट से यात्रियों की इंट्री होगी तो दूसरे से निकलेंगे।


 रोडवेज अफसरों से कहा गया है कि ,यदि कहीं पर एक ही गेट है तो बीच में बेरीकेडिंग लगा आने-जाने का रास्ता अलग-अलग कर दिया जाए।



कानपुर में व्यवस्थाएं चाक-चौबंद
रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक एस के शर्मा ,ने बताया कि प्रबंधन स्तर पर जैसे ही फरमान आएगा, संचालन शुरू करा दिया जाएगा।


 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से आने वालों को बसों ,से भिजवाया जा रहा है तो वैसे भी अधिकतर बसें फिट हैं।