सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने की घोषणा, रात को महिलाओं को सुरक्षित घर पहुँचाएगी पुलिस


 
चंडीगढ़ (स्वतंत्र प्रयाग)- महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा है कि रात 9 बजे से सुबह 6 बजे के बीच महिलाओं को घर जाने के लिए उपयुक्त साधन न मिलने की स्थिति में उन्हें सुरक्षित घर पहुँचाने के लिए पुलिस सहायता मुहैया करवायी जाएगी। प्रदेश में यह सुविधा 100, 112 और 181 नंबर पर मौजूद होगी तथा संपर्क करने वाली महिला तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम (पी.सी.आर.) के साथ जुड़ जाएगी।


मुख्यमंत्री ने डी.जी.पी. दिनकर गुप्ता को यह सुविधा राज्यभर में लागू करने को यकीनी बनाने के आदेश दिए हैं ।
घर से ले जाने और छोडऩे की सुविधा उन महिलाओं को हासिल होगी, जिनकी टैक्सी या थ्री -वीलर जैसे सुरक्षित वाहन तक पहुँच न हो। महिलाओं में सुरक्षा की भावना के बनाए रखने के लिये मुख्यमंत्री ने आदेश दिए कि यातायात के दौरान संबंधित महिला के साथ कम- से -कम एक महिला पुलिस अधिकारी ज़रूर होनी चाहिए।


पुलिस महानिदेशक ने आज यहां बताया कि राज्य में मोहाली, पटियाला और बठिंडा समेत अन्य बड़े शहरों में पुलिस मुख्यालयों पर अलग से पी.सी.आर. वाहन मौजूद होंगे। हर जिले में इस स्कीम को अमल में लाने के लिए डी.एस.पी. /ए.सी.पी. (महिलाओं के विरुद्ध अपराध विंग) नोडल अधिकारी के तौर पर तैनात होगी।


इन महिला पुलिस अधिकारियों के संपर्क नंबर पंजाब सरकार और पंजाब पुलिस वेबसाइटों पर उपलब्ध होंगे। ए.डी.जी.पी. (अपराध) गुरप्रीत कौर दिओ इस सुविधा के लिए प्रांतीय नोडल अधिकारी होंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में